राज्यसभा उपचुनाव: सुशील मोदी के खिलाफ निर्दलीय प्रत्याशी श्याम नंदन ने किया नामांकन

श्याम नंदन प्रसाद ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन दाखिल किया है. उन्होंने 10 विधायकों के समर्थन वाला पत्र जमा नहीं किया है. शुक्रवार तक वह समर्थन पत्र जमा नहीं करते हैं तो उनका नामांकन रद्द हो जाएगा. महागठबंधन की तरफ से किसी ने नामांकन नहीं किया है.

पटना: लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान के निधन से खाली हुई राज्यसभा की सीट पर एनडीए के प्रत्याशी के रूप में पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने बुधवार को नामांकन किया था. गुरुवार को उनके खिलाफ निर्दलीय प्रत्याशी श्याम नंदन प्रसाद ने आयुक्त कार्यालय में नामांकन पत्र दाखिल किया. श्याम नंदन पहले भी निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में लोकसभा का चुनाव लड़ चुके हैं. उन्हें करारी हार का सामना करना पड़ा था.

महागठबंधन ने नहीं दिया प्रत्याशी
राज्यसभा उपचुनाव के लिए महागठबंधन की तरफ से एक भी प्रत्याशी ने नामांकन दाखिल नहीं किया है. एनडीए प्रत्याशी सुशील मोदी के खिलाफ निर्दलीय प्रत्याशी श्याम नंदन प्रसाद ने नामांकन पत्र दाखिल किया है. उन्होंने एक सेट में नामांकन दाखिल किया.

नहीं जमा किया विधायकों का समर्थन पत्र
श्याम नंदन ने निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय में 10 विधायकों के समर्थन वाला पत्र जमा नहीं किया है. आज नामांकन दाखिल करने का अंतिम दिन था. राज्यसभा उपचुनाव के लिए 2 प्रत्याशियों ने नामांकन दाखिल किया. निर्दलीय प्रत्याशी श्याम नंदन प्रसाद 4 नवंबर तक 10 विधायकों के समर्थन वाला पत्र नहीं देते हैं तो उनका नामांकन रद्द हो जाएगा.

अगर श्याम नंदन 10 विधायकों के समर्थन का पत्र जमा करते हैं तो मतदान की प्रक्रिया होगी. अन्यथा एनडीए प्रत्याशी सुशील मोदी को निर्विरोध चुन लिया जाएगा. हालांकि मिल रही जानकारी के अनुसार श्याम नंदन के लिए 10 विधायकों का समर्थन जुटाना कठिन है.