सूर्य के मिथुन राशि में प्रवेश से इन राशियों को होगा फायदा, कार्य-व्यापार में होगी तरक्की

ज्योतिष शास्त्र में सूर्य एक प्रधान ग्रह है। यह राजा, नेतृत्वकर्ता, उच्च पद, सरकारी जॉब आदि का कारक माना जाता है। सूर्य सिंह राशि का स्वामी है। मेष राशि में यह उच्च का और तुला राशि में नीच का होता है। इस 15 जून को सूर्य ग्रह वृष राशि से मिथुन राशि में प्रवेश करेगा और 16 जुलाई तक इसी राशि में स्थित रहेगा। सूर्य यहां बुध और राहु के साथ युति करेगा। इसके साथ ही 21 जून को मिथुन राशि में ही सूर्य ग्रहण भी लगेगा। आइए जानते हैं सूर्य के इस गोचर का प्रभाव सभी राशियों पर क्या होगा।

मेष राशि
सूर्य के तीसरे भाव में होने से आपके प्रयासों में वृद्धि होगी। ये प्रयास आपको सफलता दिलाएंगे। आपके जोश और उत्साह में वृद्धि होगी। आप निडर होकर कार्य करेंगे। आपको कुछ नए लोगों से मिलने का मौका मिलेगा, जो आपके व्यापार को नई दिशा देने में मदद करेंगे।

वृष राशि
सूर्य का गोचर आपके धन भाव में होगा। आपको आर्थिक लाभ होने की संभावना है। इस दौरान आपके धन में वृद्धि होगी। अगर रुका हुआ पैसा है तो वह आपके पास आएगा। हालांकि इस बीच आपकी वाणी में कठोरता का भाव देखा जाएगा। आप लोगों से कुट भाषा बोल सकते हैं।

मिथुन राशि
आपकी राशि में सूर्य बुध और राहु के साथ युति करेगा करेगा। आपकी ही राशि में 21 जून को सूर्य ग्रहण लगेगा। सूर्य के गोचर से आपके स्वभाव में क्रोध और आक्रामकता का भाव देखा जा सकता है। वैवाहिक जीवन में भी आपके इस स्वभाव का नकारात्मक असर पड़ेगा।

कर्क राशि
सूर्य का गोचर आपके द्वादश भाव में मिलेजुले परिणाम देगा। इस दौरान यह आपके व्यय भाव भाव में प्रवेश करेगा। इस समय यात्रा के भी योग बन रहे है और आपके खर्चे बढ़ जाएंगे। इस समय आप अपने शत्रुओं पर विजय प्राप्त करेंगे। नौकरी में स्थानांतरण के योग बन रहे हैं।

सिंह राशि
कर्क राशि वालों के लिए प्रबल सूर्य बहुत ही शुभ परिणाम देगा। यह आपके लाभ भाव में प्रवेश होगा। इस अवधि में आपकी आमदनी बढ़ेगी। आप किसी तरह की उपलब्धि प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि आपके अंदर थोड़ा अभिमान बढ़ सकता है। समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा।

कन्या राशि
आपके दशम भाव में सूर्य का गोचर बहुत ही अनुकूल होगी। खासतौर से कार्यक्षेत्र में आपको अच्छे परिणाम मिलने की संभावना है। गोचर के दौरान सूर्य आपके ग्रह आपको कार्यक्षेत्र में मान-सम्मान दिलाएगा। यदि आप अपने कर्मक्षेत्र में दिक्कत का सामना करते आ रहे हैं तो वे समस्याएं दूर होंगी।

तुला राशि
आपके भाग्य भाव मे सूर्य का गोचर करेगा। इससे आपके भाग्य में वृद्धि होगी। सामाजिक कार्यों में आप बढ़कर चढ़कर हिस्सा लेंगे। आपकी मानसिक शक्ति प्रबल होगी। आपके द्वारा लिए गए निर्णय भी सफल साबित होंगे। इस दौरान आपको नौकरी में स्थानांतरण होंगे।

वृश्चिक राशि
सूर्य का गोचर आपके आठवें घर में होगा। तुला राशि वालों को इस दौरान थोड़ा सावधानी बरतने की आवश्यकता होगी। खासकर सेहत को लेकर सावधान रहें। धन हानि के भी योग बन रहे है इसलिए इस पर थोड़ा ध्यान दें। वर्तमान परिस्थितियों को लेकर भी मन बेचैन रहेगा। मानसिक तनाव अपने ऊपर हावी न होने दें।

धनु राशि
इस अवधि में आपको बहुत ज्यादा शुभ परिणाम नहीं मिलेंगे। इस अवधि में सूर्य आपके विवाह भाव में प्रवेश करेंगे जिसके कारण आपके दांपत्य जीवन पर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। जीवनसाथी से मनमुटाव होने की संभावना है। लेकिन व्यापार के लिए परिस्थितियां अनुकूल होंगी।

मकर राशि
सूर्य का गोचर आपके छठे भाव में होगा। आपको इस अवधि में बहुत ही अनुकूल परिणाम मिलेंगे। सरकारी क्षेत्र से कुछ अच्छे परिणाम मिल सकते हैं। आप अपने शत्रुओं को भी मात देने में आप सफल होंगे। यदि कोर्ट कचहरी में आपके खिलाफ कोई मामला है तो उसका फैसला आपके हक में आ सकता है।

कुंभ राशि
आपके संतान भाव में सूर्य का गोचर होगा। इस अवधि में आपको मिलेजुले परिणाम मिलेंगे। प्रेम जीवन में परिस्थितियां आपके विपरीत नजर आ सकती हैं। इस दौरान प्रियतम के साथ किसी बात को लेकर कहासुनी हो सकती है। इसलिए उनकी भावनाओं का ख्याल रखें। संतान को भी किसी प्रकार का कष्ट हो सकता है।

मीन राशि
सूर्य का गोचर आपके चतुर्थी भाव में होगा। आपको समाज में मान सम्मान मिलेगा। पैतृक संपत्ति में वृद्धि होने की पूरी संभावना है। सरकारी क्षेत्र से भी अच्छे लाभ मिलेंगे। यदि आप नौकरी करते हैं तो नौकरी में आपको अच्छा इंक्रीमेंट और पदोन्नति मिल सकती है। हालांकि माता जी की सेहत का ध्यान रखने की आवश्यकता है।