रामजन्मभूमि परिसर में शुरू हुआ निर्माण कार्य, खुदाई के दौरान मंदिर के अवशेष और शिवलिंग मिलने का दावा


श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का दावा है कि परिसर की खुदाई के दौरान भारी संख्या में देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियों के अतिरिक्त 7 ब्लैक टच स्टोन के स्तम्भ, 6 रेड सैंडस्टोन के स्तम्भ सहित 5 फ़ीट का एक शिवलिंग भी मिले हैं.'

राम मंदिर परिसर में चल रहे निर्माण कार्य के दौरान कई सारी प्राचीन मूर्तियां और पुराने मंदिरों के अवशेष मिल रहे हैं. मंदिर परिसर में चल रहे काम के दौरान पुरातात्विक मूर्तियों के खंबे, शिवलिंग के साथ कलश और चौखट मिलने का दावा किया जा रहा है. कोविड-19  संक्रमण के कारण देशव्यापी लॉकडाउन के बीच मिली कंस्ट्रक्शन के काम में मिली थोड़ी राहत के बाद राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया तेजी से शुरु हो गई है. 67 एकड़ भूमि पर मंदिर परिसर निर्माण के लिए फिलहाल जमीन का समतलीकरण का काम तेजी से शुरू कर दिया गया है.

नाम ने छापने के अनुरोध पर ट्रस्ट के एक पदाधिकारी ने दिप्रिंट से कहा, ‘प्रशासन की अनुमति पर राम मंदिर निर्माण संबंधी योजनाओं पर तेजी से काम किया जा रहा है. इसमें भूमि का समतलीकरण जैसे काम भी शामिल हैं.’

वह आगे कहते हैं कि ‘इस काम को चरणबद्ध तरीके से किया जा रहा है.राम मंदिर ट्रस्ट की अगली बैठक व भूमि पूजन का निर्णय देश की परिस्थिति पर निर्भर करता है.अभी फिल्हाल कुछ तय नहीं हुआ है.’

महासचिव चंपत राय के अनुसार, पिछले दस दिनों से मलबे को हटाकर समतलीकरण काम चल रहा है.’ राय आगे कहते हैं कि इस दौरान जब परिसर में खुदाई का काम चल रहा हैं वहां कुछ खंबे और शिवलिंग मिले हैं.

श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अनुसार,11 मई 2020 से रामजन्मभूमि परिसर में भूमि के समतलीकरण और गैंगवे हटाने का कार्य अयोध्या प्रशासन से अनुमति पश्चात प्रारम्भ कर दिया गया है.

कोरोना महामारी के कारण जारी सभी निर्देशों का समुचित पालन किया जा रहा है. इस कार्य से जुड़े अधिकारी ने बताया फिलहाल खनन और समतलीकरण के काम में अभी 10 मजदूर कार्य कर रहे है. मास्क, सैनीटाईज़ेशन सहित सभी आवश्यक प्रावधानों का पालन किया जा रहा है.

अधिकारियों का दावा किया कि खुदाई के दौरान पुरातत्विक महत्व की कई वस्तुएं मिली हैं जैसे कलश, पुष्प, आमलक इत्यादि.

दावा यह भी है कि खुदाई के दौरान भारी संख्या में देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियों के अतिरिक्त 7 ब्लैक टच स्टोन के स्तम्भ, 6 रेड सैंडस्टोन के स्तम्भ सहित 5 फ़ीट का एक शिवलिंग भी प्राप्त हुआ है.’

वहीं श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्र्स्ट के अयोध्या कार्यालय का निर्माण कार्य भी पूरा हो गया है. अंतिम दौर में रंगाई पुताई का कार्य किया जा रहा है.लॉकडाउन खत्म होते ही ट्रस्ट के कार्यालय का उद्घाटन किया जा सकता है.